Mr.Singh Tech

gadgets, breaking news, technology news, best laptop under 50000,

टिकटॉक में निवेश करने की तैयारी में अमेरिकी निवेशक, यूएस कंपनी के हाथ में कंट्रोल जाने से हट सकते हैं ऐप पर लगे बैन, दोबारा कामकाज शुरू कर सकेगी कंपनी https://ift.tt/39kKCY8

भारत में बैन होने के बाद भी टिकटॉक की पॉपुलैरिटी कम नहीं हुई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बाइसडांस के कुछ अमेरिकी निवेशक सहायक कंपनी टिकटॉक मेंहिस्सेदारीखरीदना चाहते हैं।

बिक्री का विरोध नहीं करेंगे- बाइटडांस के फाउंडर और सीईओ झांग यिमिंग
रिपोर्ट के अनुसार निवेशकों का छोटा समूह, बाइटडांस के शीर्ष अधिकारियों के साथ इसके लिए चर्चा कर रहाहै। सौदे में शामिल अमेरिकी निवेशकों में जनरल अटलांटिक और सिकोइया कैपिटल शामिल हो सकते हैं, जो पहले एपल, गूगल और पेपाल में भी निवेश कर चुके हैं। पिछली रिपोर्ट के अनुसार, बाइटडांस के फाउंडरऔर सीईओ झांग यिमिंग ने कहा है कि वह इस तरह की बिक्री का विरोध नहीं करेंगे।
टिकटॉक की पैरेंट कंपनी अल्ट्रा-पॉपुलर ऐप की सुरक्षा मुद्दों को कैसे संभालती है फिलहाल यह स्पष्ट नहींहै, क्योंकि चीन और अमेरिका के बीच संबंध तेजी से बिगड़ रहे हैं। अमेरिका में चीन के स्वामित्व वाले टिकटॉक ऐप ने सांसदों को परेशान कर दिया है और सवाल किया है कि चीनी सरकार के लिए यूजर्स का डेटा कितना सुलभ है।

ट्रम्प सरकार के सांसदों ने बैन करने के लिए वोट किया

  • संसदों ने संघ द्वारा जारी किए गए डिवाइस से ऐप पर प्रतिबंध लगाने के लिए मतदान किया है। राष्ट्रपति ट्रम्प और अन्य सरकारी अधिकारियों ने भी अमेरिका में ऐप पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाने के विचार में है, जैसा कि भारत ने किया है।
  • सांसदों के मुताबिक, चीन की कम्युनिस्ट पार्टी इन ऐप्स के जरिए अमेरिका में घुसपैठ कर रही है। इन ऐप्स के जरिए टिकटॉक जैसे मशहूर ऐप्स डाटा कलेक्शन करते हैं और बाद में इनका इस्तेमाल अपने हितों को साधने में किया जाता है। सांसदों ने देश की सायबर सिक्योरिटी मजबूत बनाने की भी मांग की है। इसके लिए कानून में बदलाव की अपील की गई है।

टिकटॉक का अलग फर्म बनाया जाए- व्हाइट हाउस के आर्थिक सलाहकार लैरी कुडलो
फिर भी एक अन्य विकल्प, जैसा कि व्हाइट हाउस के आर्थिक सलाहकार लैरी कुडलो ने पिछले गुरुवार को सुझाव दिया था, टिकटॉक को बाइटडांस से अलग कर दिया जाए और कंपनी के चीनी संबंधों को खत्म करते हुए एक स्वतंत्र अमेरिकी फर्म के रूप में स्थापित किया जा सकता है।

यूएस वर्कफोर्स में 10 हजार कर्मचारी शामिल करेगी टिकटॉक
रिपोर्ट्स में यह भी कहा जा रहा है कि, बाइटडांस एक अमेरिकी फर्म को टिकटॉक बेच सकती है, हालांकि इसकी बिक्री के बाद अन्य बड़ी तकनीक कंपनियों (जैसे कि स्नैप) के लिए अतिरिक्त अविश्वास संबंधी चिंताओं को बढ़ा सकती है। मंगलवार को आई एक्सियोस की रिपोर्ट के मुताबिक, टिकटॉक अगले तीन वर्षों में अपने अमेरिकी वर्कफोर्स में 10,000 कर्मचारियों को शामिल करने की योजना बना रहा है।

पाकिस्तान में भी बैन हो सकता है टिकटॉक
पाकिस्तान टेलिकम्युनिकेशन अथॉरिटी (पीटीए) ने चीन के लाइव स्ट्रीमिंग ऐप बीगो को ब्लॉक कर दिया है। इसके अलावा भारत के बाद अब पाकिस्तान में भी चीन के सोशल मीडिया ऐप टिकटॉक को बैन किया जा सकता है। यह जानकारी पीटीए ने दी है। आरोप है कि इन दोनों ऐप्स के जरिए मुल्क में अश्लीलता फैलाई जा रही है और यह देश के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं।

पाकिस्तान टेलिकम्युनिकेशन अथॉरिटी (पीटीए) ने चीन के कुछ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को बंद करने की धमकी दी


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Some US investors of Bytedance, including Sequoia Capital, are reportedly considering buying a majority stake in TikTok


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jtm980
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments